बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022, आवेदन और पात्रता

नमस्कार दोस्तों, आज हम बात करेंगे “Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana(BRFSY 2022)”। जैसा कि आप सभी जानते हैं कि देश भर में किसानों की स्थिति बहुत ही दयनीय है। इसे देखते हुए राज्य और केंद्र सरकार की ओर से तरह-तरह की योजनाएं चलाई जा रही हैं, ताकि किसानों की स्थिति सुधारकर उस्न्हे आत्मनिर्भर बनाया जा सके।

किसान बहुत मेहनत के बाद फसल उगाते हैं और कई बार प्राकृतिक आपदाओं के कारण उनकी फसल बर्बाद हो जाती है। इससे उन पर उस फसल के लिए कर्ज का काफी दबाव पड़ता है। और इस नुकसान के कारण, वे ऋण चुकाने में असमर्थ हो जाते हैं। इससे कई किसान आत्महत्या भी कर लेते हैं।

इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए बिहार राज्य सरकार ने किसानों के लाभ के लिए Bihar Fasal Sahayta Yojana नाम से एक नई योजना शुरू की है। इस योजना के तहत बिहार राज्य सरकार फसल को हुए नुकसान की भरपाई करेगी, ताकि किसानों को बोझ न उठाना पड़े।

इस योजना के तहत फसल खराब होने पर किसानों को आर्थिक सहायता दी जाएगी। इस योजना के तहत प्राकृतिक आपदाओं के खिलाफ फसलों का बीमा किया जाएगा। इनमें बारिश से नुकसान, सूखे से नुकसान, ओलावृष्टि से नुकसान शामिल हैं। बिहार फसल सहायता योजना (BFFSY 2022) की सभी जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको इस लेख को अंत तक ध्यान से पढ़ना होगा।


Table of Contents

Information on Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojna 2022/बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022 की जानकारी

Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana विवरण- यह योजना बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा शुरू की गई है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक को इसमें रजिस्ट्रेशन कराना होगा। योजना के तहत ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा, जिसके लिए आवेदन फॉर्म भरना होगा।

बिहार सरकार ने लोगों की मदद के लिए इस योजना का एक ऑनलाइन पोर्टल भी खोला है जहां लोग आसानी से अपने घर पर आवेदन कर सकते हैं।

  • राज्य सरकार ने “प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना(PMFBY-2022)” के बदले में किसानों को फसल बीमा प्रदान करने के लिए बिहार राज्य में फसल सहायता योजना(BRFSY) शुरू की है।
  • राज्य के सभी किसान फसल सहायता योजना के लिए पंजीकरण के पात्र हैं, और फसल बीमा योजना के तहत 10,000 रुपये प्रति हेक्टेयर प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन आवेदन / पंजीकरण कर सकते हैं।
  • Bihar Fasal Sahayta Yojana – BRFSY में उन किसानों पर कोई प्रतिबंध नहीं है जो पहले ही राष्ट्रीयकृत बैंकों, सहकारी बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों से ऋण ले चुके हैं।
  • अन्य एजेंसियों से कर्ज लेने वाले किसानों को भी बिहार सरकार लाभ देगी।

योजना का नामबिहार राज्य फसल सहायता योजना
प्रारंभ होने की तिथिजून 2018
अंतिम तिथिज्ञात नहीं है
योजना का प्रकारबिहार राज्य सरकार
उद्देश्यप्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान के खिलाफ किसानों को आत्मनिर्भर बनाना
सहायता राशिरु 7500 - रु 10000
ऑनलाइन आवेदनवर्तमान में सक्रिय
आधिकारिक वेबसाइटhttp://rcdonline.bih.nic.in

15 मार्च 2022 तक सरकार यह निर्धारित करेगी कि Bihar Fasal Bima Yojana के तहत किसानों को मुआवजे में कितनी राशि का भुगतान किया जाएगा, भुगतान सीधे खाताधारकों के लिंक किए गए बैंक खातों में डिपाजिट किया जाएगा। केवल वही किसान लाभान्वित होंगे जिन्होंने बीएफबीवाई के तहत पंजीकरण कराया है।


Bihar State Crop Assistance Scheme/बिहार फसल सहायता योजना

भारत कृषी प्रधान देश है। यहां की 63 फीसदी से ज्यादा आबादी प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से कृषि से जुड़ी है। ऐसे में यदि प्राकृतिक आपदा की स्थिति में आर्थिक सहायता के कारण फसल बर्बाद हो जाती है तो किसान के लिए अपने दैनिक खर्च को पूरा करना मुश्किल हो जाता है।

ऐसे में बिहार सरकार की बिहार फसल बीमा योजना के तहत किसानों को फसलों के नुकसान की भरपाई की जाती है। यह सहायता राशि सीधे किसानों के बैंक खाते में दी जाती है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को सशक्त बनाना और उन्हें आत्मनिर्भर बनाना है।


Key features of Bihar Fasal Sahayta Yojana/बिहार फसल सहायता योजना की मुख्य विशेषताएं:

  • Bihar Fasal Sahayta Yojana योजना के तहत किसानों को मुआवजा देने के लिए सरकारी राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाती है।
  • बाढ़, आंधी, ओलावृष्टि और बेमौसम बारिश से होने वाले नुकसान को भी इस योजना में शामिल किया गया है।
  • 37 जिलों की 2201 पंचायतों के 2.97 लाख किसानों की जांच पूरी हो गई है।
  • योजना का उद्देश्य किसानों की भलाई करना है।

Things to Know about Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana/बिहार राज्य फसल सहायता योजना के बारे में जानने योग्य बातें

Bihar सरकार ने प्राकृतिक आपदाओं जैसे बाढ़, तूफान, ओलावृष्टि, कम बारिश आदि के कारण फसलों के नुकसान की स्थिति में किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से Fasal Sahayta Yojana शुरू की है। इस योजना के तहत, बिहार राज्य सरकार 20% से अधिक की हानि होने पर 10000 रुपये प्रति हेक्टेयर और वास्तविक उपज दर में 20% से कम फसलों के लिए 7500 रुपये प्रदान करेगी।

यह कल्याण योजना बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा शुरू की गई है, जिसे राज्य में एक अनूठी पहल के रूप में देखा जा रहा है। Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana 2022 के तहत किसानों को मौसम, बाढ़ से हुए नुकसान की भरपाई के लिए सरकार की ओर से राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी।


Bihar State Crop Assistance Scheme Rabi / Kharif Season/बिहार राज्य फसल सहायता योजना रबी/खरीफ सीजन

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पहल Bihar Fasal Sahayta Yojana 2022 के तहत फसलों के नुकसान पर दी जाने वाली आर्थिक सहायता के लिए किसानों से कोई प्रीमियम नहीं लिया जाएगा। भारत में 63% से अधिक आबादी की आय का मुख्य साधन कृषि है। ऐसे में इस योजना से बिहार के किसानों को आर्थिक मदद मिलेगी।

ऐसे में बिहार की फसल बीमा योजना निश्चित रूप से किसानों के लिए कल्याणकारी योजना साबित होगी। इस योजना के तहत बिहार के किसी भी जिले में फसलों के नुकसान की स्थिति में वित्तीय सहायता राशि सीधे Bihar Fasal Sahayta Yojana के तहत पंजीकृत किसानों के बैंक खाते में प्रदान की जाएगी।


Registration started for crop assistance scheme/फसल सहायता योजना के लिए पंजीकरण शुरू

Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana 2020-21 में रबी फसल के लिए पंजीकरण प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। 3 दिसंबर 2020 को सहकारिता विभाग ने रजिस्ट्रेशन के लिए नोटिफिकेशन जारी किया है। इस योजना के तहत किसानों को किसी भी प्रकार का प्रीमियम नहीं देना होगा।

फसल को हुए नुकसान की भरपाई भी सरकार करेगी। इस योजना का लाभ लेने के इच्छुक किसानों को आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। यह पंजीकरण गेहूं, मक्का, चना, मसूर, सरसों, ईख, प्याज और आलू की फसल को हुए नुकसान की भरपाई के लिए किया जाएगा। सरकार द्वारा विभिन्न फसलों के लिए अलग-अलग पंजीकरण तिथियां प्रदान की गई हैं। वे सभी किसान जो इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं, उन्हें अंतिम तिथि से पहले पंजीकरण कराना होगा।


These crops will be replenished/इन फसलों की होगी भरपाई

  • राज्य के 38 जिलों में पंचायत स्तर पर गेहूं और मक्का की व्यवस्था की गई है। साथ ही जिला स्तर पर चना, मसूर, सरसों, ईख, प्याज और आलू को अधिसूचित किया गया है।
  • चने की फसल के नुकसान की स्थिति में राज्य के 17 जिलों को मुआवजा दिया जाएगा, मसूर की फसल को नुकसान होने पर 35 जिलों को मुआवजा दिया जाएगा।
  • तुअर की फसल को नुकसान हुआ तो 22 जिलों को मुआवजा दिया जाएगा, ईख की फसल को नुकसान हुआ है तो 16 जिलों को मुआवजा दिया जाएगा, राज्य के सभी जिलों को सरसों की फसल के लिए मुआवजा दिया जाएगा। प्याज की फसल को नुकसान हुआ है, 14 जिलों को मुआवजा दिया जाएगा और अगर आलू की फसल को कोई नुकसान हुआ है तो 15 जिलों को मुआवजा दिया जाएगा।
  • यदि नुकसान 20% से कम है, तो Bihar Fasal Sahayta Yojana के तहत प्रतिपूर्ति दर 7500 रुपये प्रति हेक्टेयर है। प्रत्येक किसान अधिकतम 2 हेक्टेयर में इस योजना का लाभ उठा सकता है। यदि नुकसान 20% से अधिक है, तो उसे 10,000 रुपये प्रति हेक्टेयर की दर से मुआवजा दिया जाता है।

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana Application Form/बिहार फसल सहायता योजना आवेदन पत्र

बिहार में ज्यादातर किसान मक्का और तिलहन की खेती करते हैं, जिससे बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से किसानों को काफी नुकसान होता है। इससे निपटने के लिए किसानों को खरीफ, रबी और तिलहन फसल सीजन में बिहार फसल सहायता योजना के लिए ऑनलाइन पोर्टल पर आवेदन पत्र भरकर पंजीकरण कराना होगा।

इसके बाद किसी भी प्रकार की प्राकृतिक आपदा की स्थिति में 20% से अधिक फसल के नुकसान पर किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। सभी इच्छुक किसान Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं।


Benefits of Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana/बिहार राज्य फसल सहायता योजना के लाभ

  • बिहार सरकार की इस योजना का लाभ उन किसानों को दिया जाएगा जिनकी फसल प्राकृतिक आपदा या शुष्क मौसम की स्थिति में खराब हो गई है।
  • यदि उपज हानि दर २०% से कम तो ७५०० रुपये प्रति हेक्टेयर से और २०% से अधिक फसलों का नुकसान होने पर 10,000 रुपये प्रति हेक्टेयर बिहार राज्य के किसानों को राशि प्रदान की जाएगी।
  • सहायता राशि सभी किसानों के बैंक खाते में सीधे हस्तांतरित की जाएगी, जिससे पारदर्शिता बनाए रखने में मदद मिलेगी।
  • यह अनिवार्य है कि बिहार राज्य के किसान जो योजना के तहत लाभ के इच्छुक हैं, उनके बैंक खाते आधार संख्या से जुड़े होने चाहिए।
  • इस योजना के तहत बाढ़, आंधी, ओलावृष्टि और बेमौसम बारिश से होने वाले नुकसान को भी शामिल किया गया है।

Bihar Crop Insurance Scheme 2022 Eligibility Criteria/बिहार फसल बीमा योजना 2022 पात्रता मानदंड

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा शुरू की गई किसान फसल सहायता योजना का लाभ लेने के लिए दिए गए पात्रता मानदंड को किसानों को पूरा करना होगा।

  • केवल वही किसान जो बिहार के स्थायी निवासी हैं, फसल सहायता योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • किसान के बैंक खाते से जुड़े होने पर ही किसानों को फसलों के नुकसान की भरपाई के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • वही किसान बिहार फसल बीमा योजना का लाभ ले सकते हैं, जिनकी फसल प्राकृतिक आपदा से क्षतिग्रस्त हो गई है।

Documents required for Bihar Fasal Sahayta Yojana/बिहार राज्य फसल सहायता योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक पासबुक
  • बैंक का आधार लिंकेज
  • कृषि भूमि के कागजात
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

इसके अलावा, आपको आवेदन के समय निम्नलिखित दस्तावेजों की सेल्फ अटेस्टेड कॉपी भी रखनी होगी।

Essential documents for Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana application/बिहार फसल सहायता योजना आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज

Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana 2021 Benefits | Sarkaari Yojana

  • पहचान पत्र की प्रति (400 केबी पीडीएफ प्रारूप में)
  • पासपोर्ट आकार का फोटो (आकार में 50 केबी से कम)
  • बैंक पासबुक के प्रथम पृष्ठ की प्रति (पीडीएफ प्रारूप में 400 केबी)
  • आवासीय प्रमाण की प्रति (400 केबी से आकार के पीडीएफ प्रारूप में)

For the ryot cultivator/रयत किसान के लिए

  • भूमि स्वामित्व प्रमाणपत्र।
  • सेल्फ डिक्लेरेशन सर्टिफिकेट

For non-ryot cultivators/गैर-रयत किसानों के लिए

  • सेल्फ डिक्लेरेशन सर्टिफिकेट।

Total applications received/कुल प्राप्त आवेदन

  • बिहार फसल सहायता योजना प्राप्त करने के लिए अब तक कुल आवेदन (खरीफ-21) 874156, (खरीफ-20) 3929108।
  • गेहूं खरीद के लिए कुल 16788 आवेदन।
  • Bihar Fasal Sahayta Yojana रबी के लिए प्राप्त कुल आवेदन सीजन 2020-21 1333100 ।

प्रत्येक जिले के अनुसार विवरण के लिए visit करें: खरीफगेहूंरबी


How to apply for Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana/बिहार राज्य फसल सहायता योजना के लिए आवेदन कैसे करें

यदि आप उपरोक्त सभी पात्रता मानदंडों और आवश्यक दस्तावेजों की उपलब्धता को पूरा करते हैं, तो आप दिए गए चरणों के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana 2021 Benefits | Sarkaari Yojana

  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको हाईलाइट किए जा रहे रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपके सामने एक और पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर आपको पंजीकरण करें option पर क्लिक करना होगा

Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana 2021 Benefits | Sarkaari Yojana

  • इस पेज पर आपसे आपके आधार कार्ड की उपलब्धता के संबंध में जानकारी मांगी जाएगी। आपको अपना आधार नंबर डालकर कोई एक option पर क्लिक करें।
  • आधार क्रमांक और विकल्प चुनने के बाद Authenticate पर क्लिक करें।

  • इसके बाद आपके आधार कार्ड से संबंधित जानकारी की जांच करने के बाद, आप आपका आवेदन पूरा हो जाएगा।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना


Instructions to download Crop Assistance Monitoring App Kharif/फसल सहायता निगरानी एप खरीफ डाउनलोड करने के निर्देश

  • सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको योग्य ग्राम पंचायत की सूची के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक और पेज खुलेगा।

Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana 2021 Benefits | Sarkaari Yojana

  • इस पेज पर आपको बिहार राज्य फसल सहायता निरिक्षण एप खरीफ 2022 के लिंक पर क्लिक करना है।

  • Google Play Store में आपको दिए गए चित्र के अनुसार एक ऐप दिखाई देगा।
  • आप इस Bihar Fasal Sahayta Yojana निरीक्षण मोबाइल app पर क्लिक करके app डाउनलोड कर सकते हैं।

Instructions to download Crop Assistance Monitoring App Rabi/फसल सहायता निगरानी एप रबी डाउनलोड करने के निर्देश

  • सबसे पहले आपको Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको योग्य ग्राम पंचायत की सूची के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक और पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर आपको बिहार राज्य फसल सहायता निरीक्षण एप रबी के लिंक पर क्लिक करना है।
  • Google Play Store में आपको दिए गए चित्र के अनुसार एक app दिखाई देगा।
  • आप इस बिहार राज्य फसल सहायता निरीक्षण app रबी डाउनलोड पर क्लिक करके app डाउनलोड कर सकते हैं।

System for review the rundown of qualified Gram Panchayats/योग्य ग्राम पंचायतों की सूची की समीक्षा के लिए प्रणाली

  • सबसे पहले आपको Official website की साइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको योग्य ग्राम पंचायत की सूची के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक और पेज खुलेगा।

Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana 2021 Benefits | Sarkaari Yojana

  • इस पेज पर आपको दिए गए स्थान में अपना वर्ष, जिला और ब्लॉक का चयन करना होगा।

Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana 2021 Benefits | Sarkaari Yojana

  • सारी जानकारी चुनने के बाद आप View के बटन पर क्लिक करें। पात्र ग्राम पंचायतों की सूची अब आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर दिखाई देगी।

Report of online registration of farmers for Bihar Fasal Sahayta Yojana(Kharif)/बिहार राज्य फसल सहायता योजना(खरीफ) के लिए किसानों के ऑनलाइन पंजीकरण की रिपोर्ट

  • प्राधिकरण साइट पर जाएँ
  • साइट के होम पेज पर, आपको मेनू में “रिपोर्ट” के विकल्प पर टैप करना होगा। अब एक ड्रॉप डाउन मेनू खुलेगा, Bihar Fasal Sahayta Yojana (खरीफ 2018-19) के लिंक पर क्लिक करें।

  • इस पेज आपके सामने सारे जिलों की सूचि खुलेगी, अपने जिले का चयन करें।
  • जिले के नाम का चयन होते ही उस जिले के अंतर्गत आने वाले प्रखंडों की सूची खुल जाएगी।
  • अपना ब्लॉक चुनें और फिर उस पंचायत को चुनें जो ब्लॉक के अंतर्गत आती है। आप पंचायत का चयन करते ही बिहार फसल सहायता योजना (खरीफ) के लिए किसानों के ऑनलाइन पंजीकरण की रिपोर्ट देख सकते हैं।

Report of online registration of farmers for Bihar State Crop Assistance Scheme (Rabi-2020)/बिहार राज्य फसल सहायता योजना के लिए किसानों के ऑनलाइन पंजीकरण की रिपोर्ट (रबी-2020)

  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • साइट के लैंडिंग पृष्ठ पर, आपको मेनू में “रिपोर्ट” के विकल्प पर टैप करना होगा। अब इसमें एक ड्रॉप डाउन मेन्यू खुलेगा, Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana (रबी 2020-21) के लिंक पर क्लिक करें।
  • यहां आप जिला, प्रखंड और पंचायत के अनुसार जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इस पेज में अपना जिला चुनें।
  • जिले के नाम का चयन होते ही उस जिले के अंतर्गत आने वाले प्रखंडों की सूची खुल जाएगी।
  • अपने ब्लॉक का चयन करें और फिर ब्लॉक के तहत पंचायत चुनें। आप पंचायत का चयन करते ही Bihar Fasal Sahayta Yojana (रबी) के लिए किसानों के ऑनलाइन पंजीकरण की रिपोर्ट देख सकते हैं।
  • आप इस रिपोर्ट को प्रिंट भी कर सकते हैं।

Report of online enlistment of farmers for paddy procurement/धान उपार्जन हेतु किसानों की ऑनलाइन सूचीकरण की रिपोर्ट

  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • साइट के लैंडिंग पृष्ठ पर, आपको मेनू में “रिपोर्ट” के विकल्प पर टैप करना होगा। अब एक ड्रॉप डाउन मेनू खुलेगा, धान अधिप्राप्ती 2018-19 के लिंक पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपके सामने एक नई लिस्ट खुल जाएगी। इस लिस्ट में आपको वह जिला चुनना है जिसके अंतर्गत आप आते हैं।
  • जिले के चयन के बाद जिले के अंतर्गत आने वाले ब्लॉकों की सूची आपकी स्क्रीन पर होगी। इन ब्लॉकों में से अपने ब्लॉक का चयन करें और फिर उस ब्लॉक के अंतर्गत आने वाली पंचायत से अपनी पंचायत का नाम खोजें।
  • अपनी पंचायत के नाम से जितने आवेदन आते हैं उन पर क्लिक करें और एक नई सूची में आपको सभी नामों के साथ जानकारी मिल जाएगी। ऊपर बताए गए नामों का पता लगाएं और स्थिति देखें।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना


Report of online enlistment of farmers for wheat procurement/गेहूँ उपार्जन हेतु किसानों की ऑनलाइन सूचीकरण की रिपोर्ट

  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • साइट के लैंडिंग पृष्ठ पर, आपको मेनू में “रिपोर्ट” के विकल्प पर टैप करना होगा।
  • अब एक ड्रॉप डाउन मेन्यू खुलेगा, गेहूं अधिप्राप्ति 2019-20 के लिंक पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपके सामने एक नई लिस्ट खुल जाएगी। इस लिस्ट में आपको वह जिला चुनना है जिसके अंतर्गत आप आते हैं।
  • जिले के चुनाव के बाद जिले के अंतर्गत आने वाले प्रखंडों की सूची आपकी स्क्रीन पर होगी। इन ब्लॉकों में से अपने ब्लॉक का चयन करें और फिर उस ब्लॉक
  • के अंतर्गत आने वाली पंचायत से अपनी पंचायत का नाम खोजें।
  • अपनी पंचायत के नाम से जितने आवेदन आते हैं उन पर क्लिक करें और एक नई सूची में आपको सभी नामों के साथ जानकारी मिल जाएगी। ऊपर बताए गए नामों का पता लगाएं और स्थिति देखें।

See list of eligible gram panchayats online/पात्र ग्राम पंचायतों की सूची ऑनलाइन देखें

  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • साइट के लैंडिंग पृष्ठ पर, आपको मेनू में “योग्य ग्राम पंचायतों की सूची” के विकल्प पर टैप करना होगा।
  • अब season में से रबी और खरीफ किसी एक को चुनें। इसके बाद अपने जिले का चयन करें।
  • जिले के चयन के बाद अपना ब्लॉक चुनें और फिर राय का बटन दबाएं।
  • View का बटन दबाते ही आपकी स्क्रीन पर पात्र ग्राम पंचायतों की सूची खुल जाएगी, आकलन के आधार पर आप फसल कटाई रिपोर्ट के आधार पर देख सकते हैं कि पंचायत योग्य है या नहीं।

Procedure for applying for procurement/खरीद के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया

खरीद के लिए आवेदन करने के लिए, आप नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन कर सकते हैं।

  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • साइट के लैंडिंग पृष्ठ पर, आपको “लिंक – 2 (केवल खरीद के लिए)” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस पेज पर आपको कई लिंक दिखाई देंगे। इनमें से, “खरीद के लिए आवेदन करने के लिए यहां क्लिक करें !!” के विकल्प का चयन करें।
  • यहां मेनू में ऑनलाइन आवेदन करने के विकल्प के तहत कृषि इनपुट अनुदान योजना (2020-21) के विकल्प का चयन करें।
  • आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर एक आवेदन फॉर्म खुलेगा, इस फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारियों को ध्यान से भरकर सबमिट कर दें।

Procedure for printing the application for procurement/खरीद के लिए आवेदन पत्र को प्रिंट करने की प्रक्रिया

  • खरीद के लिए आवेदन करने के बाद आप अपने आवेदन का प्रिंट भी ले सकते हैं।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • साइट के लैंडिंग पृष्ठ पर, आपको “लिंक – 2 (केवल खरीद के लिए)” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस पेज पर आपको कई लिंक दिखाई देंगे। इनमें से, “खरीद के लिए आवेदन पत्र प्रिंट करने के लिए यहां क्लिक करें!” विकल्प का चयन करें।
  • इस पेज पर दिए गए बॉक्स में कृषि विभाग का किसान रजिस्ट्रेशन नंबर भरें और सर्च बटन दबाएं।
  • अब आप प्रांत बटन दबाकर अपने आवेदन पत्र का प्रिंट ले सकते हैं।

Procedure for rectification of rejected application for procurement/खरीद के लिए अस्वीकृत आवेदन के सुधार की प्रक्रिया

यदि आपका आवेदन खरीद के लिए आवेदन करने के बाद खारिज कर दिया गया है, तो आप नीचे दिए गए चरणों का पालन करके आवेदन में सुधार कर सकते हैं।

  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं
  • साइट के लैंडिंग पृष्ठ पर, आपको “लिंक – 2 (केवल खरीद के लिए)” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस पेज पर आपको कई लिंक दिखाई देंगे। इनमें से, “खरीद के लिए अस्वीकृत आवेदन को सुधारने के लिए यहां क्लिक करें” विकल्प का चयन करें।
  • इस पेज पर दिए गए बॉक्स में कृषि विभाग का किसान रजिस्ट्रेशन नंबर भरें और सर्च बटन दबाएं।
  • अब आप इस फॉर्म में संभावित बदलाव कर सकते हैं।

Conclusion/निष्कर्ष

Bihar Fasal Sahayta Yojana आज तक एक बड़ी सफलता है और अभी भी कृषि क्षेत्र में अपनी क्षमता साबित करने की इच्छा रखती है। इसने प्रगति की है और उन सभी जरूरतमंद किसानों तक पहुंच रही है, जिन्हें फसल क्षति और वित्तीय संकट के कारण बहुत नुकसान हुआ है। बिहार फसल सहायता योजना ने किसानों के कल्याण में एक अनुकरणीय भूमिका निभाई है। इस तरह के प्रयास फलदायी साबित होंगे और एक प्रगतिशील राष्ट्र की दिशा में प्रगति करेंगे। आज के जरूरतमंद किसानों की सोच हम सभी के लिए बेहतर कल होगी।

Helpline number/हेल्पलाइन नंबर

इस लेख में, आपको Bihar Fasal Sahayta Yojana के आवेदन और अन्य विवरणों के बारे में बताया गया है। अगर आपको अभी भी आवेदन के समय कोई समस्या हो रही है तो आप हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके या ईमेल आईडी के जरिए मदद ले सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर और email id की जानकारी इस प्रकार है।

हेल्पलाइन नंबर- 18003456290
Email id- [email protected]


Frequently Asked Questions related to Bihar State Crop Assistance Scheme/बिहार राज्य फसल सहायता योजना से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्र. बिहार राज्य फसल सहायता योजना की वेबसाइट क्या है?
उ. आप यहां से योजना की जानकारी देख सकते हैं- http://rcdonline.bih.nic.in/fsy/

प्र. यदि किसान की फसल का 20% नष्ट हो जाता है, तो कितना पैसा दिया जाता है?
उ. बिहार सरकार द्वारा 7500 रुपये तक की सहायता प्रदान की जाएगी।

प्र. यदि फसल का नुकसान 20% से अधिक है, तो सरकार द्वारा कितना पैसा दिया जाएगा?
उ. 10,000 रुपये प्रति हेक्टेयर की सहायता दी जाएगी।

प्र. क्या बिहार राज्य फसल सहायता योजना में दी जाने वाली सहायता बैंक खाते में जमा की जाती है या डाक से भेजी जाएगी?
उ. यह राशि आपके बैंक खाते में क्रेडिट कर दी जाएगी।

प्र. इस योजना का आवेदन पत्र किस वेबसाइट पर उपलब्ध है?
उ. आप बिहार राज्य फसल सहायता योजना एवं खरीद (सहकारिता विभाग) की वेबसाइट -http://rcdonline.bih.nic.in/fsy/ देख सकते हैं।

प्र. बिहार सरकार द्वारा शुरू की गई बिहार राज्य फसल सहायता योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है?
उ. इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसान की आत्मनिर्भरता को बढ़ाना है ताकि राज्य में फसल को नुकसान से बचाने के लिए खेती को बढ़ाया जा सके।

9 thoughts on “बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022, आवेदन और पात्रता”

Leave a Reply

%d bloggers like this: