UP Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana | यूपी सरकार सोलर सिस्टम सब्सिडी योजना आवेदन और लाभ

UP Rooftop Solar panel subsidy scheme 2022 | सोलर पैनल सब्सिडी आवेदन फॉर्म ऑनलाइन | UP government subsidy scheme hindi @upneda.org.in | रूफटॉप सोलर पैनल 50000 तक की सब्सिडी

क्या आप यूपी के रहने वाले हैं और बिजली के बिल से परेशान हैं?

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के नागरिकों के लिए बिजली बिलों के बोझ को कम करने के लिए न्यू एंड रिन्यूएबल एनर्जी डिपार्टमेंट एजेंसी (NEDA) के तहत Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana 2022 शुरू की है, जिसके लिए उन्हें रूफटॉप सोलर पैनल की स्थापना अधिक से अधिक बढ़ावा देने के लिए सब्सिडी भी दी जाती है।

यदि आप UP के निवासी हैं और अपने कार्यस्थल या घर के लिए सोलर पैनल लगाने की योजना बना रहे हैं तो इस लेख में हम योजना के बारे में सभी विवरण बताएंगे और यह भी बताएंगे कि आप योजना के लिए आवेदन कैसे कर सकते हैं और Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana का लाभ प्राप्त कर सकते हैं, हम आपसे अनुरोध करते हैं कि इस लेख को अंत तक पढ़ें।

यूपी सोलर पैनल सब्सिडी योजना का उद्देश्य(Objective of UP Rooftop Solar Panel Subsidy yojana)

यूपी रूफटॉप सोलर पैनल सब्सिडी योजना का उद्देश्य यूपी राज्य के गरीब नागरिकों से बिजली के बोझ को कम करना और पर्यावरण प्रदूषण को कम करने के लिए हरित ऊर्जा को बढ़ावा देना है। यूपी राज्य सरकार घरों या इमारतों की छतों पर सोलर पैनल लगाने के लिए सब्सिडी प्रदान करेगी।

Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana के साथ आप स्मार्टफोन की कीमत में अगले 25 वर्षों के लिए बिजली के बिलों की लागत को कम कर सकते हैं, बिजली का उपयोग करने के लिए आपको जो कीमत खर्च करने की आवश्यकता है वह 167 रुपये है। Rooftop Solar Panel की स्थापना के लिए आप जितना अधिक स्थान प्रदान करेंगे, आपको उतनी ही अधिक subsidy yojana से मिलेगी और अधिक अवधि की लागत प्रभावी होगी।

प्रकृति संरक्षण के लिए वैकल्पिक ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार ने सौर पैनलों की स्थापना के लिए 30% सब्सिडी की घोषणा की है। इसलिए यदि आप रूफटॉप सोलर पैनल लगाने के लिए 120 वर्ग फुट का खुला टेरेस स्थान प्रदान करते हैं तो मुफ्त बिजली आपूर्ति की अवधि 50000 रुपये के एकमुश्त निवेश पर अगले 50 वर्षों के लिए होगी।

> उत्तर प्रदेश वृद्ध्वास्ता पेंशन योजना लिस्ट 2022

Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana अवलोकन

रूफटॉप सोलर पैनल लगाने के लिए यूपी राज्य सरकार सब्सिडी देगी, प्रकृति संरक्षण में योगदान देने वाले राज्य के नागरिकों को सरकार द्वारा सब्सिडी से पुरस्कृत किया जाएगा।

1 KW की स्थापना की लागत लगभग 70000 रुपये है, लेकिन Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana के तहत यूपी सरकार 30000 रुपये की सब्सिडी देगी, जो कि लगभग आधी कीमत है। राज्य के अतिरिक्त ऊर्जा मंत्रालय विभाग ने प्रावधान किया है कि जो नागरिक नया रूफटॉप सोलर पैनल लगाएंगे उन्हें अगले 25 साल तक बिजली मिलेगी.

उत्तर प्रदेश के लिए बिजली की औसत दैनिक आवश्यकता 1600 MW है और राज्य में बिजली की कमी अक्सर अधिक होती है। लेकिन बिजली की कमी के बावजूद रूफटॉप सोलर पैनल लगाने के मामले में राज्य अन्य राज्यों से पीछे है, यूपी ने लक्ष्य का केवल 13.1% हासिल कर लिया है।

इसलिए लोगों को बहुत कम लागत पर सौर ऊर्जा की खपत के बारे में अधिक जागरूक करने के लिए, राज्य सरकार ने रूफटॉप सोलर पैनल सब्सिडी योजना शुरू की है और विभिन्न प्लेटफार्मों के माध्यम से इसे बढ़ावा दे रही है।

UP Rooftop Solar Panel subsidy scheme 2022 hindi

योजना का नाम: UP Rooftop Solar Panel Subsidy Scheme
द्वारा शुरू किया गया: केंद्र सरकार, यूपी राज्य सरकार द्वारा समर्थित
उद्देश्य: यूपी के गरीब नागरिकों के बिजली बिलों की लागत को कम करना
लाभार्थी: यूपी के नागरिक और व्यवसायी
आवेदन: ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट: http://upneda.org.in/Index.aspx

यूपी रूफटॉप सोलर पैनल सब्सिडी योजना के तहत सब्सिडी लाभ

Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana के तहत सोलर पैनल लगाने के लिए सरकार 40% की छूट देगी यानि 1 KW सोलर पैनल लगाने की लागत 25 साल के लिए लगभग 50000 रुपये होगी। साथ ही सोलर पैनल निर्माताओं ने सोलर पैनल की खरीद पर अतिरिक्त 10% छूट की घोषणा की है। 1 KW सौर बिजली 2 पंखे और 4 LED बल्ब के लिए प्रतिदिन बिजली पैदा करने के लिए पर्याप्त है।

केंद्र सरकार की सौर सब्सिडी योजना गरीबी रेखा से नीचे के लोगों के लिए रूफटॉप सौर पैनल के 1 KW की स्थापना के लिए पूर्ण ऋण भी देती है। आवेदक को बैंक से 50000 रुपये का ऋण मिल सकता है लेकिन आवेदक को बैंक के पास एक गारंटर रखना होता है और ऋण को अगले तीन वर्षों में चुकाना होता है।

रूफटॉप सोलर पैनल की लागत भी पिछले 6-7 वर्षों में 80-85% तक कम हो गई है और Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana के माध्यम से लोगों ने यह भी माना है कि सौर बिजली न केवल बड़ी परियोजनाओं के लिए लाभदायक है, बल्कि बिजली की खपत और लागत में कटौती के लिए घरों में उपयोग किया जा सकता है।

साथ ही रूफटॉप सोलर पैनल का उपयोग पर्यावरण के प्रदूषण के खिलाफ लड़ाई और लोगों के लिए आर्थिक रूप से विश्वसनीय होने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

(How to apply) रूफटॉप सोलर पैनल सब्सिडी योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

न्यू एंड रिन्यूएबल एनर्जी डिपार्टमेंट एजेंसी के साथ UP सरकार Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana लेकर आई है जिसमें उत्तर प्रदेश के नागरिकों को पर्यावरण को बचाने और वैकल्पिक ऊर्जा के उपयोग की दिशा में एक कदम के रूप में 30,000 रुपये की सब्सिडी प्रदान की जाएगी। .

यूपी रूफटॉप सोलर पैनल सब्सिडी योजना के तहत आवेदन करने के लिए आवेदक को नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा-

  • एनईडीए के SPIN(सौर फोटोवोल्टिक इंस्टालेशन) मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • होमपेज पर थोड़ा नीचे स्क्रॉल करें और आपको सोलर रूफटॉप के लिए अप्लाई का विकल्प दिखाई देगा, उस विकल्प पर क्लिक करें।

Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana Hindi 2021 | यूपी सोलर पैनल सब्सिडी आवेदन

  • अब यह आपको राज्यवार DISCOM पोर्टल लिंक पर ले जाएगा, अपने राज्य और शहर के लिंक पर क्लिक करें।

  • अगले पेज पर आपको upneda के लिए वेबसाइट दिखाई देगी, और आपको Apply and Apply Online का विकल्प दिखाई देगा।

Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana Hindi 2021 | यूपी सोलर पैनल सब्सिडी आवेदन

  • उस विकल्प पर क्लिक करें और आपको एक आवेदन पत्र मिलेगा, आवेदक के विवरण, रूफटॉप सिस्टम विवरण भरें और फिर आपको पंजीकरण फॉर्म मिलेगा।
  • पंजीकरण फॉर्म में सभी आवश्यक विवरण भरें और फॉर्म जमा करें पर क्लिक करें।
  • सबमिट करने के बाद आपको एक रसीद मिलेगी, आपका रजिस्ट्रेशन प्रोसेस पूरा हो गया है।
  • अब संबंधित विभाग का व्यक्ति आपको सत्यापन के लिए बुलाएगा और कुछ दिनों में आगे की प्रक्रिया के लिए आपके स्थान पर आएगा।

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना 2022

यूपी विश्वकर्मा श्रम सम्मान रोजगार-लघु योजना

Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana ऑनलाइन आवेदन के लिए आवश्यक योग्य दस्तावेज

  • आवेदक का पहचान प्रमाण (आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी, आदि)
  • पते का प्रमाण (पासपोर्ट, बिजली बिल, बैंक पासबुक)
  • ऊपर दिए गए दस्तावेजों की सेल्फ अटेस्टेड स्कैन कॉपी अपलोड करने के लिए उपलब्ध होनी चाहिए।
  • आवेदक का पासपोर्ट साइज फोटो।
  • छत की तस्वीरें जहां सोलर पैनल लगाना है।
  • चयनित सौर उपकरण के चालान की प्रति।

Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana का दायरा

भारत का लक्ष्य 2022 तक 100 GW सौर ऊर्जा प्राप्त करना है, और देश को अक्षय ऊर्जा में परिवर्तित करने और प्रदूषण को कम करने में देश के नागरिकों द्वारा सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जाती है। रूफटॉप सोलर पैनल सब्सिडी योजना में अधिक लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए सरकार द्वारा सब्सिडी की नीतियों को और अधिक सरल बनाया जा रहा है।

UP राज्य सरकार का लक्ष्य rooftop solar panel subsidy yojana की संशोधित नीतियों द्वारा सालाना 6400 MW ऊर्जा पैदा करना है। योजना को बढ़ावा देने वाले सरकारी कार्यालयों और सरकारी घरों में बड़े पैमाने पर सोलर पैनल लगाए जाएंगे। सरकार सौर ऊर्जा प्रोत्साहन योजना में निवेशकों को छूट जैसे पुरस्कार भी प्रदान करेगी।

यूपी सरकार ने विद्युत सुरक्षा निदेशालय से NOC की आवश्यकता की नीति को भी हटा दिया है। अब 10 KW तक का सोलर एनर्जी प्लांट लगाने के लिए बिजली विभाग से एन.ओ.सी लेने की जरूरत नहीं है।

प्रदेश के उद्योगों को उत्तर प्रदेश में 100 KW से अधिक के सोलर प्लांट लगाने पर 4 रुपये प्रति यूनिट की दर से बिजली मिलेगी। सरकारी और निजी दोनों क्षेत्रों के उद्योगों के लिए, अक्षय सेवा कंपनी द्वारा सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित किया जाएगा। निजी संस्थानों पर स्थापना का खर्च निजी संस्थानों द्वारा स्वयं वहन किया जाएगा लेकिन वे UP rooftop solar panel subsidy yojana के तहत आवेदन करने के पात्र हैं, उनके लिए भी बिजली के उपयोग का शुल्क 4 रुपये प्रति यूनिट होगा।

यूपी रूफटॉप सोलर पैनल सब्सिडी योजना FAQs

प्र. रूफटॉप सोलर सिस्टम कितने प्रकार के होते हैं?
उ. 2 प्रकार (i) सोलर रूफटॉप सिस्टम या ऑफ ग्रिड सिस्टम जिसमें बैटरी की कमी की सुविधा है (ii) ग्रिड कनेक्टर सोलर रूफटॉप पीवी सिस्टम।

प्र. सोलर रूफटॉप स्टोरेज और ग्रिड सोलर रूफटॉप पैनल में क्या अंतर है?
उ. सोलर रूफटॉप स्टोरेज सिस्टम में ऊर्जा भंडारण बैटरी होती है, इसलिए ऊर्जा का उपयोग रात के समय में किया जा सकता है जब सूरज नहीं होता है।

एक ग्रिड कनेक्टेड सोलर रूफटॉप सिस्टम डीसी पावर को एसी पावर एनर्जी में परिवर्तित करता है और अतिरिक्त बिजली ग्रिड को फीड की जाती है, जब क्लाउड कवर के कारण डायरेक्ट एनर्जी उपलब्ध नहीं होती है तो वह जिस पावर फॉर्मेट में काम करता है।

प्र. ग्रिड कनेक्टेड सोलर पैनल की स्थापना के लिए कितने क्षेत्र की आवश्यकता है?
उ. प्रति 1 किलोवाट ग्रिड के लिए 10 वर्ग मीटर क्षेत्र की आवश्यकता है।

प्र. क्या यह योजना ग्रिड से जुड़े सोलर प्लांट के लिए लागू है?
उ. हां, सभी प्रकार के आवासीय, निजी और सार्वजनिक भवनों पर स्थापना के लिए UP Rooftop solar panel subsidy yojana के तहत 30% सब्सिडी लागू है।

उपरोक्त पोस्ट में हमने आपको UP Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana में पंजीकरण के लिए पात्रता और प्रक्रिया के साथ-साथ यूपी रूफटॉप सोलर पैनल सब्सिडी योजना की सही और अधिकतम जानकारी प्रदान करने की पूरी कोशिश की है। यदि हमसे कुछ जानकारी छूट गयी हों, तो कृपया हमें टिप्पणियों(Comments) या हमारे संपर्क फ़ॉर्म(Contact form) के द्वारा सूचित करने में संकोच न करें। इसके अलावा अगर आपको प्रक्रिया में कोई समस्या आती है, तो कमेंट में लिखे या निचे contact details पर संपर्क करें ।

Contact details related to UP Rooftop Solar Panel subsidy scheme

Toll free number – 18001800005
Desk Officer – 9454412269
Website – http://upneda.org.in/


Pradhan Mantri Garib Kalyan Ann Yojana 2022 Hindi

Pradhan Mantri Vay Vandana Pension Yojana List 2022 Hindi

Bharat Sarkar Vidhwa Pension Yojana Hindi

 

कृपया यहां पढ़ी गई जानकारी को शेयर करें, ताकि अधिक लोगों को इस जानकारी के लाभों के बारे में पता चल सके। यदि आपको कोई संदेह है तो कृपया नीचे comments में पूछें।

राज्य और केंद्र सरकार से संबंधित अधिक जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट sarkariyojana.in को बुकमार्क भी कर लें।

6 thoughts on “UP Rooftop Solar Panel Subsidy Yojana | यूपी सरकार सोलर सिस्टम सब्सिडी योजना आवेदन और लाभ”

Leave a Reply

%d bloggers like this: