रक्षा पेंशन शिकायत निवारण पोर्टल 2022

Raksha Pension Shikayat Nivaran Online Portal 2022 |  रक्षा पेंशन शिकायत निवारण पोर्टल 2022 लाभ | Raksha Pension Shikayat Nivaran Benficiaries 2022 Eligibility and Documents | रक्षा पेंशन शिकायत निवारण आवेदन करें

Raksha Pension Shikayat Nivaran Portal 2022 Hindi | Defence Ministry Online

रक्षा पेंशन शिकायत निवारण पोर्टल क्या है

भारत सरकार ने रक्षा सैनिकों को संबोधित करने और उन्हें सम्मानित करने के लिए, raksha pension shikayat nivaran portal नामक एक समर्पित पेंशनभोगी पोर्टल लॉन्च किया। इस पोर्टल को माननीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा हर साल 14 जनवरी को मनाए जाने वाले सशस्त्र सेना वयोवृद्ध दिवस के अवसर पर लॉन्च किया गया था। इसके अलावा, रक्षा मंत्रालय (MoD) ने पूर्व सैनिकों और उनके परिवारों के कल्याण के लिए तीन नई योजनाओं की घोषणा की है। रक्षा पेंशन शिकायत निवारण पोर्टल का उद्देश्य एक्स-सर्विसमैन और उनके परिवारों की पारिवारिक पेंशन पर विवादों को हल करना है और यह वर्तमान और भविष्य के सैन्य सेवानिवृत्त लोगों को लाभान्वित करेगा।

भारतीय रक्षा कर्मियों की संख्या निस्संदेह बड़ी है, और पूर्व सैनिकों और उनके आश्रितों की संख्या भी बड़ी है। संख्या को देखते हुए DESW (भूतपूर्व सैनिक कल्याण विभाग) को पेंशन संबंधी कठिनाइयों सहित कई समस्याओं पर कई शिकायतें प्राप्त होती हैं। विभाग इन पेंशन संबंधी शिकायतों के साथ-साथ अन्य शिकायतों को भी देखता है, कुछ पेंशन/पारिवारिक पेंशन/विकलांगता पेंशन संबंधी शिकायतें फेरबदल में खो जाती हैं। इन मुद्दों के त्वरित और प्रभावी निवारण की सुविधा के लिए एक समर्पित पेंशन शिकायत निवारण फोरम को आवश्यक माना गया। पोर्टल पारिवारिक पेंशन सहित पूर्व सैनिकों और उनके वंशजों के संबंधितों के पेंशन शिकायतों को कुशल और समयबद्ध तरीके से हल करने के लिए प्रतिबद्ध है। आवेदक इस पोर्टल का उपयोग करके अपने मुद्दों को भूतपूर्व सैनिक कल्याण विभाग को निर्देशित कर सकेंगे।

Raksha Pension Shikayat Nivaran Yojana Hindi

योजना का नाम Raksha Pension Shikayat Nivaran Portal
द्वारा शुरू की गई भारत सरकार – रक्षा मंत्री
लाभार्थी पूर्व सैनिक और उनके परिवार
उद्देश्य पूर्व सैनिकों के पेंशन शिकायत का निवारण
आवेदन ऑनलाइन/ऑफलाइन

इससे रक्षा पेंशनभोगियों और उनके आश्रितों को क्या लाभ होगा (How will it benefit for the Defense Pensioners and their dependents)

हर साल, लगभग 60,000 सशस्त्र बलों के व्यक्ति सेवानिवृत्त होते हैं या अपने सक्रिय कर्तव्य से छुट्टी दे दी जाती है, उनमें से अधिकांश 35 से 45 वर्ष की आयु के बीच होते हैं। पोर्टल को इन रक्षा पेंशनभोगियों या पूर्व सैनिकों और उनके द्वारा सामना की जाने वाली समस्याओं का सम्मान करने के लिए डिज़ाइन और लॉन्च किया गया है। आश्रित पोर्टल का उपयोग करके पूर्व सैनिक ESM विधवाओं और पूर्व सैनिकों के आश्रित बच्चों के लिए स्कूली शिक्षा और विवाह भत्ता जैसी अपनी समस्याओं को दर्ज कर सकते हैं। पोर्टल पर एक आवेदन स्वचालित रूप से आवेदकों को उनके पंजीकृत मोबाइल नंबर और mail address पर SMS और e-mail उत्पन्न करेगा और उन्हें उनकी शिकायत के पंजीकरण की सूचना देगा और उन्हें इसकी स्थिति को ट्रैक करने की अनुमति देगा। शिकायत निवारण की गुणवत्ता में सुधार के लिए आवेदक टिप्पणी भी प्रस्तुत कर सकते हैं। लगभग 2.5 मिलियन वर्तमान और भविष्य के सैन्य सेवानिवृत्त इस मंच का उपयोग कर सकते हैं।

रक्षा पेंशन शिकायत पोर्टल – उद्देश्य (Objective of Raksha Pension Shikayat Portal)

सरकार का इस पोर्टल को शुरू करने का मकसद भूतपूर्व सैनिकों और उनके आश्रितों की समस्याओं का समाधान करना है। इसलिए ऑनलाइन पोर्टल तैयार किया गया है। इसके जरिए वे आसानी से अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। जिससे समय रहते इस पर काम किया जाएगा। इसलिए यह पोर्टल शुरू किया गया है।

रक्षा मंत्रालय द्वारा सेवानिवृत्त सैनिकों को मासिक भरण पोषण भत्ता के रूप में जल्द से जल्द पेंशन प्रदान करने के लिए रक्षा पेंशन शिकायत निवारण पोर्टल शुरू किया गया है ताकि वे और उनके आश्रित आराम से अपना जीवन व्यतीत कर सकते हैं। इस पोर्टल पर ऐसे सैनिक जो सेना से सेवानिवृत्त हो चुके हैं और उन सैनिकों के आश्रित पेंशन से संबंधित शिकायत दर्ज करा सकते हैं और उनका समाधान भी इस पोर्टल के माध्यम से देखा जा सकता है।

रक्षा पेंशन शिकायत निवारण पोर्टल लाभ (Benefits of Raksha Pension Shikayat Nivaran Portal)

सेना से सेवानिवृत्त हुए सैनिकों और उनके परिवारों को पेंशन शुरू करने से लेकर पेंशन प्राप्त करने तक जो भी समस्याएं आती हैं, वे इस रक्षा पेंशन शिकायत निवारण पोर्टल पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं, जिस पर तत्काल भूतपूर्व सैनिक कल्याण विभाग सुनवाई करेगा।
इस पोर्टल का लाभ यह है कि वे घर बैठे इस पर शिकायत दर्ज कर सकते हैं और शिकायत की स्थिति क्या है या शिकायत पर कितनी कार्रवाई की गई है, वे भी इस पोर्टल के माध्यम से जानकारी देख सकते हैं। इससे उन्हें जल्द से जल्द पेंशन मिल सकेगी और वे अपने जरूरी काम कर सकेंगे।

रक्षा पेंशन शिकायत पोर्टल की विशेषताएं Features of Raksha Pension Shikayat Nivaran Portal

  • इसे केवल भूतपूर्व सैनिकों और उनके आश्रितों के लिए शुरू किया गया है।
  • इसमें इन पूर्व सैनिकों और आश्रितों के लिए कई तरह के विकल्प तैयार किए गए हैं, जिसमें वे अपनी समस्या सरकार तक पहुंचा सकते हैं।
  • सरकार इस योजना का लाभ भूतपूर्व सैनिकों और आश्रितों तक जल्द से जल्द पहुंचाने का भरसक प्रयास करेगी।
  • इसकी एक विशेषता यह है कि, इसके लिए आपको किसी भी सरकारी कार्यालय में आवेदन लेकर जाने की आवश्यकता नहीं होगी। आप इस पोर्टल पर जाकर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।
  • इसका लाभ सैनिक के परिवार के सदस्यों और सेवानिवृत्त सैनिकों को दिया जाएगा।
  • पंजीकृत शिकायतों को इस पोर्टल के माध्यम से सरकार को भेजा जाएगा। चाहे वह किसी राज्य या किसी शहर से पंजीकृत हो।
  • इसका फायदा यह होगा कि अब जो भी काम होगा वो डिजिटल तरीके से होगा, ताकि जो कुछ भी होता है वह कागज के बजाय एक दस्तावेज़ में सहेजा जाता है।

रक्षा पेंशन शिकायत निवारण पोर्टल 2022 पात्रता

भारतीय सेना से सेवानिवृत्त होने वाला प्रत्येक सैनिक इस पोर्टल पर शिकायत करने का पात्र होगा, चाहे वह नौसेना, सेना या वायु सेना में हो। इसके अलावा भारतीय सेना से जुड़ी हर बटालियन के जवान इस पोर्टल पर शिकायत करने के पात्र हैं।

रक्षा पेंशन शिकायत पोर्टल योजना के लिए दस्तावेज

  • इस पोर्टल पर शिकायत दर्ज करने के लिए आपके पास आर्मी कार्ड होना चाहिए, तभी आप इसके लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • आधार कार्ड होना भी आवश्यक है क्योंकि यह आपकी सभी महत्वपूर्ण जानकारियों को सरकार के पास दर्ज रखता है।
  • पासपोर्ट साइज फोटो होना भी जरूरी है ताकि सरकार को आपकी पहचान करने में कोई परेशानी न हो।
  • एक मोबाइल नंबर भी आवश्यक है ताकि आपकी शिकायत या इस योजना से संबंधित जानकारी आप तक आसानी से पहुंच सके।

भारत सरकार विधवा पेंशन योजना आवेदन

UP वृध्वास्ता पेंशन योजना लिस्ट 2022

रक्षा पेंशन शिकायत निवारण पोर्टल पर शिकायत कैसे करें?

  1. ऐसे सैनिक जो सेना से सेवानिवृत्त हो चुके हैं जो पेंशन से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं और वे अपनी शिकायत दर्ज कराना चाहते हैं, उन्हें सबसे पहले रक्षा पेंशन शिकायत निवारण पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा
  2. आधिकारिक वेबसाइट पर पहुंचने के बाद उन्हें Registered Grievance or Complaint का एक विकल्प दिखाई देगा, उन्हें इस विकल्प पर क्लिक करना है।
  3. अब उनकी स्क्रीन पर एक बॉक्स दिखाई देगा। इस बॉक्स में उन्हें अपना मोबाइल/फोन नंबर डालना होगा और फिर सेंड OTP पर क्लिक करना होगा। ऐसा करने पर प्राप्त OTP को दिए गए स्थान में दर्ज करना होगा और फिर सबमिट करना होगा।
  4. इस फॉर्म में आपको पेंशन से संबंधित समस्या की जानकारी देनी होगी और जरूरी दस्तावेज भी अपलोड करने होंगे।
  5. इसके बाद आपको सबमिट का बटन दबाना है।

ऐसा करने पर आपकी शिकायत पोर्टल पर दर्ज हो जाएगी। इसके बाद आपके द्वारा दिए गए रजिस्टर्ड फोन नंबर पर आपकी शिकायत से जुड़ी हर प्रक्रिया आपको मिल जाएगी।

रक्षा पेंशन शिकायत निवारण पोर्टल हेल्पलाइन

अगर आपको इस पोर्टल से संबंधित कोई समस्या है या आपको कोई शिकायत करनी है या आपको कोई सुझाव देना है तो इस पोर्टल का हेल्पलाइन नंबर भी नीचे दिया गया है जिस पर आप संपर्क कर सकते हैं और अपनी समस्या या अपनी बात का समाधान प्राप्त कर सकते हैं।

कॉल सेंटर नंबर: 011-23013627
ईमेल: [email protected]

Raksha Pension Shikayat Nivaran Portal FAQ

Q-रक्षा पेंशन शिकायत पोर्टल किसके द्वारा शुरू किया गया था?
उत्तर- इस पोर्टल की शुरुआत राजनाथ सिंह ने की थी।

Q- रक्षा पेंशन शिकायत पोर्टल लॉन्च करने का उद्देश्य?
उत्तर- इस पोर्टल की शुरुआत सरकार ने सैनिकों की समस्या के समाधान के लिए की थी।

Q-सरकार ने रक्षा पेंशन शिकायत पोर्टल कब शुरू किया?
उत्तर- इस पोर्टल की शुरुआत सशस्त्र सेना वयोवृद्ध दिवस पर की गई थी।

Q: रक्षा पेंशन शिकायत निवारण पोर्टल का रखरखाव कौन कर रहा है?
उत्तर: रक्षा मंत्रालय, भारत

Q: रक्षा पेंशन शिकायत निवारण पोर्टल का विस्तार कितनी दूर है?
उत्तर: यह भारत के सभी राज्यों में फैला हुआ है।


आगे पढ़ें-

उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 रजिस्ट्रेशन

वृद्धावास्ता पेंशन योजना लिस्ट 2021 UP

भारतीय पोस्ट सेविंग स्कीम – high interest

 

कृपया यहां पढ़ी गई जानकारी को शेयर करें, ताकि अधिक लोगों को इस जानकारी के लाभों के बारे में पता चल सके। यदि आपको कोई संदेह है तो कृपया नीचे comments में पूछें।

राज्य और केंद्र सरकार से संबंधित अधिक जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट sarkariyojana.in को बुकमार्क भी कर लें।

Leave a Reply

%d bloggers like this: